सूरत और उधना रेलवे स्टेशन का होगा कायाकल्प, 1285 करोड़ रुपये होंगे खर्च-irsdc-invites-bid-to-redevelop-surat-and-udhna-railway-stations-nodvkj– News18 Hindi

अहमदाबाद. भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम यानी आईआरएसडीसी (Indian Railway Stations Development Corporation Ltd.) ने गुजरात के सूरत और उधना स्टेशनों में बदलाव को लेकर रिक्वेस्ट फॉर क्वालिफिकेशन यानी आरएफक्यू (Requests for Qualification) मांगा है. नोडल एजेंसी ने इसे रेलपोलिस (Railopolis) या मिनी स्मार्ट शहर का नाम दिया है जहां कोई रह सकता है, काम कर सकता है, खेल सकता और यात्रा कर सकता है.

आईआरएसडीसी ने बयान में कहा कि इसका मकसद इन स्टेशनों का इंटीग्रेटेड रेलवे स्टेशन और सब-सेंट्रल बिजनेस सेंटर के रूप में विकास करना और ट्रांजिट आधारित विकास एवं स्मार्ट सिटी सिद्धान्तों के तहत स्टेशनों की संपदा और आसपास के क्षेत्रों में बदलाव लाना है.

ये भी पढ़ें- जब खाने के लिए Zomato के सीईओ को लगानी पड़ी थी लंबी लाइन, तभी आया ख्याल और खड़ी की 1 लाख करोड़ की कंपनी

बयान में कहा गया है कि नए सिरे से विकसित सूरत रेलवे स्टेशन में केंद्रीय कॉन्कोर्स तथा पैदल रास्ते का भी प्रावधान होगा. इससे यात्रियों को रेलवे प्लेटफॉर्म, राज्य और शहर के बस टर्मिनलों, प्रस्तावित मेट्रो रेल, पार्किंग तथा अन्य क्षेत्रों के लिए बाधारहित संपर्क उपलब्ध हो सकेगा.

ये भी पढ़ें- 12.90 रुपए के इस शेयर ने निवेशकों को किया मालामाल! सालभर में ₹1 लाख बन गए ₹6 लाख, क्या है आपके पास?

चार साल में पूरा होगा रिडेवलपमेंट

इसी तरह उधना रेलवे स्टेशन का रिडेवलपमेंट बेहतर संपर्क के साथ किया जाएगा. साथ ही यहां से बाहर निकलने वाले यात्रियों के लिए कॉन्कोर्स बनाया जाएगा. इन दोनों स्टेशनों के रिडेवलपमेंट की लागत करीब 1,285 करोड़ रुपये बैठने का अनुमान है. रेलवे स्टेशनों का रिडेवलपमेंट चार साल में पूरा होगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source

Leave a Reply

%d bloggers like this: